Menu

अमेरिकी कामबंदी के कारण नासा का ‘डे ऑफ रिमेंबरेंस’ स्थगित…


अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने सरकार की मौजूदा कामबंदी के कारण अंतरिक्ष के क्षेत्र में अपनी जिंदगी कुर्बान करने वाले नायकों के लिए समर्पित ‘डे ऑफ रिमेंबरेंस’ (स्मृति दिवस) समारोह को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया है। स्पेसडॉटकॉम की रपट के अनुसार, नासा के प्रशासक जिम ब्रिडेंस्टीन ने कहा, ‘नासा ने 31 जनवरी को प्रस्तावित समारोह को तबतक के लिए स्थगित कर दिया है, जबतक एजेंसी के कर्मचारी दोबारा काम शुरू नहीं कर देते।’
ब्रिडेंस्टीन ने कहा, ‘नासा का वार्षिक ‘डे ऑफ रिमेंबरेंस’ न सिर्फ हमें हमारे परिवार, दोस्तों और सहकर्मियों के बलिदान को दर्शाता है, बल्कि सुरक्षा, संप्रभुता, टीमवर्क के हमारे मूल सिद्धांतों की याद दिलाता है, जैसा कि हम हमारे इतिहास बनाने वाली परियोजनाओं में किया करते थे।’ बयान के अनुसार, ‘दुर्भाग्य से, नासा परिवार के अधिकतर लोग अवकाश पर हैं और हमने महसूस किया कि ‘डे ऑफ रिमेंबरेंस’ में शामिल होना कईयो के लिए चुनौती होगी।’
‘डे ऑफ रिमेंबरेंस’ नासा के इतिहास में सबसे गंभीर दुर्घटनाओं की याद में मनाया जाता है। उल्लेखनीय है कि ‘अपालो 1’ में 27 जनवरी, 1967 को लांच सिमुलेशन के दौरान आग लग गई थी। वहीं 28 जनवरी, 1986 को ‘चैलेंजर स्पेश सटल’ में लिफ्ट ऑफ होने के बाद ही विस्फोट हो गया था। तीसरी घटना, 1 फरवरी, 2003 को हुई, जिसमें ‘कोलंबिया स्पेश सटल’ अंतरिक्ष से धरती की ओर आते समय दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इस घटना में भारतीय-अमेरिकी मूल की अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला की मौत हो गई थी।
..

(साभार :  एजेन्सी / संवाददाता  / अन्य न्यूज़ पोर्टल )

ताजा खबरों के अपडेट लगातार पाने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें| आप हमें ट्वीटर पर भी फॉलो कर सकते हैं|

loading...

Like us on Facebook